छिपे हुए कैमरे को कैसे पहचानें

chhipa hua camera find hidden cameras कैसे छिपे हुए कैमरे का पता लगायें

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है, वैसे-वैसे गैजेट्स(इलेक्ट्रॉनिक यंत्र) छोटे और सस्ते होते जा रहे हैं. यही बात कैमरों के लिए भी सही है. chhipa hua camera find hidden cameras कैसे छिपे हुए कैमरे का पता लगायें

chhipa hua camera find hidden cameras कैसे छिपे हुए कैमरे का पता लगायें
via

दरअसल आप अपने आस पास जैसे ही नज़र डालेंगे, आप पाएंगे कि कैमरे अमूमन सभी जगह हैं. चाहे वो ट्रैफिक सिग्नल हो, पार्किंग हो, कोई दुकान हो या कोई सोसाइटी / घर. अगर आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं तो हो सकता है कि इस समय आप पर भी कोई कैमरा नज़र रख रहा हो. find hidden cameras कैसे छिपे हुए कैमरे का पता लगायें

इन कैमरों के बहुत सारे अच्छे उपयोग हैं. ये सार्वजनिक जगहों में चौबीसों घंटे सुरक्षा और सतर्कता के लिए लगाये जाते हैं ताकि आपराधिक गतिविधियों को रोका जा सके. find hidden cameras

लेकिन दिक्कत तब होती है जब ये कैमरे गलत कामों के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं जो कि अक्सर होता है. इन्हें स्पाई कैमरे कहते हैं. chhipa hua camera कैसे छिपे हुए कैमरे का पता लगायें

यहाँ पर हम आपको बताएँगे कि आप छिपे हुये कैमरे को कैसे पहचाने और अपनी प्राइवेसी (निजता) को सुरक्षित रखें.

नीचे कुछ जगहों की लिस्ट दी जा रही है जहां पर ये कैमरे छिपाए जा सकते हैं:

  • बिजली के उपकरण, गुलदस्ते(flower pots), स्मोक डिटेक्टर, दीवारों और उसके कोनो पर पर लटके बेवजह तार, दीवारों पर बनी हुई डिजाईन इत्यादि.
chhipa hua camera find hidden cameras कैसे छिपे हुए कैमरे का पता लगायें
via
  • चेंजिंग रूम/ ट्रायल रूम में दीवार पर लगा आईने(mirror) के अन्दर, कपडे टांगने के हैंगर के अन्दर.
chhipa hua camera find hidden cameras कैसे छिपे हुए कैमरे का पता लगायें
via
  • खिलौने, बैग, दीवारों पर लगे स्विचेस बटन.
chhipa hua camera find hidden cameras कैसे छिपे हुए कैमरे का पता लगायें
via

अपनी सतर्क नज़रों से छिपे हुये कैमरे को पहचाने:

ख़ास बात ये है कि छोटे और जासूसी कैमरे कहीं भी छिपाए जा सकते हैं लेकिन (साफ़ रिकॉर्डिंग के लिए) लेंस वाले हिस्से को बाहर की तरफ रखना पड़ता है.

अगर आपको किसी जगह पर शंका है तो उस जगह के आसपास (ख़ासकर कमरे की साइड दीवारों) के छोटे-छोटे छेद पर नज़र दौडायें. अगर आप ध्यान से देखेंगे तो इन छेदों में धंसे हुये काले चमकदार लेंस को आसानी से पहचान सकते हैं.

अपने मोबाइल से छिपे हुये कैमरे को पहचाने

आप शंका वाली जगह के पास अपना मोबाइल ले जायें और किसी को कॉल लगायें. अगर छिपा हुआ कैमरा होगा तो आपको अलग तरह की (रेडियो जैसी) आवाज सुनाई देगी. जिसे आप आसानी से पहचान सकते हैं. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि (छिपा हुआ)कैमरा और (आपके)मोबाइल के इलेक्ट्रो-मैग्नेटिक तरंगे आपस में टकराते हैं.

अपने मोबाइल पर एप डाउनलोड कर के

इसके अलावा आप अपने मोबाइल के प्ले स्टोर/एप स्टोर पर हिडेन कैमरा डिटेक्टर एप भी मौजूद हैं.

वायरलेस कैमरा डिटेक्टर से छिपे हुये कैमरे को पहचाने

वायरलेस कैमरा डिटेक्टर एक तरह का डिवाइस / यन्त्र होता है. जो छिपे हुये कैमरे को पता लगाने का सबसे कारगर तरीका होता है. मार्केट में मौजूद इस तरह के डिटेक्टर दो तरीकों से काम करते हैं: या तो छिपे हुए कैमरे के काले चमकदार लेंस का पता लगाते हैं या फिर कैमरे की तरंगों का.

एक अच्छे वायरलेस कैमरा डिटेक्टर में दोनों ही फीचर्स होने चाहिये यानी छिपे हुए कैमरे के काले चमकदार लेंस के साथ-साथ कैमरे से निकलने वाली तरंगों का भी पता लगाते हैं और ज्यादा सटीक ढंग से काम करते हैं.

छिपा हुआ कैमरा मिलने के बाद क्या करें

इस तरह का कैमरा मिलना आपके लिए काफी हैरान और परेशान करने वाली बात हो सकती है. और यह घटना किसी के साथ भी हो सकती है. इसलिए बिना किसी झिझक के इस पर एक्शन लेना जरूरी है.

  • जब भी आपको शंका हो तुरंत उस जगह के मालिक, अधिकारी, कर्मचारी से इसके बारे में बतायें.
  • अगर आपको लगता है कि मामला गंभीर है तो तुरंत 100 नंबर डायल करके पुलिस की मदद लें.

निष्कर्ष

जैसे कि पहले बताया जा चुका है कि जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है, वैसे-वैसे ये स्पाई कैमरे छोटे और सस्ते होते जा रहे हैं. इसलिये ऐसी चीजें कोई भी खरीद सकता है और गलत मकसद से इनका इस्तेमाल कर सकता है.

लिहाज़ा आज के समय में आप जितना जागरूक, सतर्क और इन चीजों के लिये खुद को अपडेट रखेंगे, आप उतना ही सुरक्षित रहेंगे.

Share Button

Comments

Loading…